Inspirational Short Story In Hindi अच्छे के लिए होता है।

 Short Story In Hindi

आज की हमारी स्टोरी Inspirational Short Story In Hindi में हम एक सेवक और भगवान की कहानी पढ़ेंगे। एक बार मंदिर में भगवान का सेवक बोलता है। हे प्रभु, आप रोज-रोज ऐसे ही दिन भर खड़े रहते है, थक जाते होंगे। एक दिन के लिए मैं आपकी जगह खड़ा हो जाता हु। और आप मेरे भेश मैं बाहर घूम आइये।

भगवान मान जाते है। और सेवक से बोलते है की जो भी प्रार्थना करने आये। बस तुम उसकी प्रार्थना सुनना पर बोलना कुछ नहीं मैंने सब के लिए प्लानिंग कर रखी है। और भगवान चले जाते है।

सबसे पहले एक व्यापारी आता है। और कहता है कि हे भगवान् मेने एक कारखाना लगाया उसे खूब सफल बनाना। सबसे पहले एक व्यापारी आता है। और कहता है कि हे भगवान् मेने एक कारखाना लगाया उसे खूब सफल बनाना। वो माथा टेकता है तो उसका पर्श गिर जाता है। वो बिना पर्श लिए ही चला गया।

सेवक बेचारा बेचैन हो जाता है। सोच रहा था उसे बताये लेकिन भगवान को दिए बचन को याद चुपचाप खड़ा रहता है।

फिर एक भूखा आदमी आता है और कहता है। की हे भगवान खाने के लिए कुछ नहीं है। तभी उसकी नज़र पर्श पर पड़ती है। और भगवान का प्रसाद समझ के पर्श लेकर चला जाता है।

और फिर एक नाव वाला आता है।और भगवान से विनती करता है। की में एक लम्बी समुन्दर की यात्रा पर जा रहा हु, मेरी यात्रा सफल करना और फिर तभी वहा वो व्यापारी पुलिस के साथ आता है। और नाविक को दोषी समझ के पकड़ने लगता है।

ये सब देखकर सेवक बोल पड़ता है की पर्स नाविक ने नहीं उस गरीब आदमी ने चुराया है और सेवक के कहने पर पुलिस गरीब आदमी को पकड़ लेती है। और जेल में बंद कर देती है।

जब रात को भगवान आते है, तो सेवक सारी कहानी सुनाता है। इस पर भगवान कहते है की तुमने कोई काम नहीं बनाया है बल्कि सबके काम बिगड़ दिए।

भगवान बोले की वो व्यापारी गलत काम से व्यापार कर रहा था। अगर उसका पर्श किसी भूखे को खाना देता है तो इससे उसके पाप ही कम होते। और उसकी भूख मिट जाती।

और वो नाविक जिस यात्रा पर जा रहा है वह तूफान आने वाला है। अगर वो जेल में होता तो उसकी जान बच जाती।

सच में तुमने बहुत बड़ी गड़बड़ कर दी कभी-कभी जिसे हम दुःख समझते है। असल में वो हमारे भले के लिए ही होता है। सेवक को गलती का अहसास होता है। और उसके मन में एक नयी विचारधारा बनती है। की जो होता है अच्छे के लिए होता है।

Inspirational Message

जब भी हमारे सामने कोई समस्या आये तो घबराये नहीं, ही उसे दुःख का नाम दे। और न ही उसका कारण दूसरो को या खुद को बता कर बैचेन हो। जबकि यह सोचे की इसके पीछे भगवान की प्लांनिग है। और आपके भले के लिए ही ये सब हो रहा है। Inspirational Short Story In Hindi

Other web page

Inspirational Message

ये भी पढ़े !!