IPL 2021 : IPL Postponed Biggest immediate challenge for BCCI is to get overseas players into their respective countries | विदेशी खिलाड़ियों को उनके घर पहुंचाना BCCI की सबसे बड़ी चुनौती; UAE, ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों ने भारत से आने वाली फ्लाइट्स पर रोक लगाई


विज्ञापन से परेशान हैं? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली12 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

आईपीएल के 14 वें सीज़न को कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से टाल दिया गया है। पिछले 2 दिनों में 3 फ्रेंचाइजी के 4 खिलाड़ी और 1 स्टाफ पॉजिटिव आए हैं। सूत्रों के मुताबिक अभी और मामला आ सकता है। ऐसे में कई टीमों ने खुद को क्वारंटाइन कर लिया है।

इसने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के सामने भी एक चुनौती खड़ी कर दी है। वर्तमान में लीग में 61 खेल रहे थे। अब BCCI के पास ये सबको सफलतापूर्वक घर पहुंचाने की भी जिम्मेदारी है। पर यूएई और ऑस्ट्रेलिया सहित कई देशों ने भारत से आनी वाली फ्लाइट्स पर रोक लगा रखी है। ऐसे में BCCI को इन सभी को सुरक्षा के साथ घर भेजना बड़ी चुनौती है।

100 से अधिक विदेशी खिलाड़ी और कर्मचारी भारत में
चेन्नई सुपर किंग्स, दिल्ली कैपिटल्स, कोलकाता नाइट राइडर्स, मुंबई इंडियंस, पंजाब किंग्स, सनराइजर्स हैदराबाद में सबसे ज्यादा 8-8 विदेशी खिलाड़ी हैं। वहीं, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु में 7 और राजस्थान रॉयल्स में 6 विदेशी खिलाड़ी हैं। इसमें ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका के 50 से ज्यादा खिलाड़ी हैं। इसके साथ ही बांग्लादेश और वेस्टइंडीज के खिलाड़ी भी इस लीग से जुड़े हुए हैं। इतना ही नहीं इन सभी देशों के 40 से ज्यादा कर्मचारी और कमेंटेटर भी भारत में हैं।

ऑस्ट्रेलिया और बांग्लादेश ने भारत से फ्लाइट्स पर रोक लगाई
कई देशों ने भारत से आने वाले लोगों के लिए एंट्री पर बैन लगा दिया है। इसमें ऑस्ट्रेलिया और बांग्लादेश मुख्य देश हैं। वहीं, भारत से इंग्लैंड जाने वाले लोगों को 10 दिन के लिए सख्त क्वारंटाइन नियमों के पालन करने होंगे। लोगों को यूके सरकार द्वारा एप्रूव्ड किए गए होटल में क्वारंटाइन किया जाएगा। साथ ही उन्हें दूसरे और 8 वें दिन कोरोना टेस्ट भी करवाना होगा।

अब संयुक्त अरब अमीरात भी अपने देश नहीं खिलाड़ी हो सकता है
हालांकि, संयुक्त अरब अमीरात ने कुछ दिन पहले तक अपने द्वार खोल रखे थे। पर उन्होंने भारत में कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद 14 मई तक भारत से आनी वाली फ्लाइट्स पर रोक लगा दी। IPL बीच में छोड़कर जाने वाले ऑस्ट्रेलिया के Androidue टाई और इंग्लैंड के लियाम लिविंगस्टोन इसी देश के साथ अपने-अपने देश लौटे थे।

बांग्लादेश ने भी 1 मई के बाद से भारत और दक्षिण अफ्रीका से हवाई सेवा पर रोक लगा रखी है। है उनका लैंड बॉर्डर खुला है। इस मार्ग से आने वाले लोगों को 14 दिन के सख्त क्वारंटाइन में भेजा जाएगा।

न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड अपने खिलाड़ियों से संपर्क में है
न्यूयॉर्क ही इकलौता ऐसा देश है, जहां उनके देश के लोगों को आने की इजाजत दी गई है। भारत कोई भी देश इस वक्त भारत से अपने खिलाड़ियों को लाने का इच्छुक नहीं है। न्यूजीलैंड क्रिकेट ने भारत के हालात पर बयान देते हुए कहा था कि हम अपने खिलाड़ियों से संपर्क में हैं।

उन्होंने कहा कि सभी खिलाड़ी सुरक्षित हैं और जो खिलाड़ी संपर्क में आए टीम से हैं उन्होंने अपने आप को क्वारंटाइन कर लिया है। हम लगातार बीसीसीआई, ईसीबी और नई सरकार से संपर्क में हैं। इस वक्त जल्दबाजी में कुछ भी कह पाना मुश्किल है।

भारत से ऑस्ट्रेलिया जाने वाले लोगों को जेल में बंद किया जाएगा
वहीं, ऑस्ट्रेलिया ने 15 मई तक फ्लाइट्स पर बैन लगाया है। इसके साथ ही वहाँ अपने या किसी देश के लोगों के लिए सख्त नियम भी लागू किए गए हैं। नियम के मुताबिक अगर कोई भी व्यक्ति भारत से अपने देश आता है, तो उन्हें जेल में बंद कर दिया जाएगा। ऐसे में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया किसी भी खिलाड़ी को वापस बुलाने पर विचार नहीं कर रहा है। सीए ने सोमवार को कहा कि वर्तमान में फ्लाइट्स का भी कोई ऑप्शन नहीं है। सभी खिलाड़ी सुरक्षित हैं।

खबरें और भी हैं …



Source link